पतंजलि CSC आरोग्य केन्द्र आवश्यकता एवं संकल्प

    परम् पूज्य स्वामी रामदेव जी महाराज एवं श्रद्धेय आचार्य श्री बालकृष्ण जी महाराज तथा पतंजलि योगपीठ (ट्रस्ट) हरिद्वार के तत्वावधान में पूरे भारतवर्ष में योग, आयुर्वेद एवं स्वदेशी के प्रचार-प्रसार के साथ देश के कोने-कोने तक इस अभियान को ‘स्वदेशी से सम्रद्धि’ के साथ जोड़कर विस्तार दिया जा रहा है। इस कार्य के लिए भारत सरकार के CSC संस्थान द्वारा संचालित केन्द्रों के माध्यम से प्रत्येक जिले, तहसील एवं ग्राम स्तर पर नये पतंजलि CSC आरोग्य केन्द्रों का स्थापित किया जाना सुनिश्चित हुआ है जिससे सुदूर ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले भाई/बहनों व उनके पारिवारिकजनों को स्वदेशी से स्वास्थ्य व सम्रद्धि प्राप्ति के लिए एक नया अभियान प्रारम्भ किया जा सके।

    इसके लिए कम पूंजी निवेश एवं सीमित साधनों के आधार पर इन सेन्टरों को खोला जाना निश्चित हुआ है, पतंजलि CSC आरोग्य केन्द्रों में संस्था द्वारा निर्मित कुछ पेटेन्ट आयुर्वेदिक औषधियाँ, खाद्य उत्पाद, आयुर्वेदिक सौन्दर्य प्रसाधन उत्पाद एवं अन्य मुख्य उत्पाद उपलब्ध हो सकेंगे।

    इन उत्पादों को घर-घर तक पहुँचाने के लिए ‘स्वदेशी सम्रद्धि कार्ड योजना’ के सदस्य बनाना व उन्हें पतंजलि CSC आरोग्य केन्द्र के स्वदेशी अभियान से जोड़ना तथा केन्द्र के माध्यम से इस सेवा को क्रियान्वयन करना है। जिससे गाँव-गाँव तक पतंजलि के गुणवत्तायुक्त उत्पाद 5 से 10 प्रतिशत तक की विशेष छूट पर सभी को प्राप्त हो सकें। स्वदेशी सम्रद्धि योजना के अन्तर्गत जुड़ने वाले सदस्यों को विशेष सहयोग प्रदान करने की योजना तैयार की गई है, जिसमें स्वदेशी सम्रद्धि कार्ड धाारक सदस्य की दुर्घटना में मृत्यु हो जाने पर उसके द्वारा नामांकित या आश्रित व्यक्ति को अनुदान सहयोग के रूप में 5,00,000/- (पाँच लाख रुपये) की राशि प्रदान की जायेगी। स्थायी दिव्यांगता (Disability) होने पर स्वदेशी सम्रद्धि कार्ड धाारक को 2,50,000/- (दो लाख पचास हजार रुपये) सहयोग के रूप में प्रदान किये जायेंगे।

यह योजना माननीय प्रधाानमंत्री जी के डिजीटल पेमेंट (कैशलेस योजना) का सबसे बड़ा अभियान भी होगी।